X Close
X
8299323179

खुदरा महंगाई दर में इजाफा, अप्रैल में 2.92 फीसदी रही मुद्रास्फीति


Lucknow:

लोकसभ चुनाव के बीच व्यपार के क्षेत्र में एक बड़ी खुशखबरी सामने आई है। बता दें कि मुद्रास्फीति में इजाफा देखने को मिला है। खाद पदार्थो की कीमतों में वृद्धि की वजह से खुदरा महंगाई दर अप्रैल में बढ़कर 2.92 फीसदी रही, जो मार्च महीने में 2.86 फीसदी दर्ज़ की गयी थी। अप्रैल 2018 में महंगाई दर 4.58 फीसदी थी। सोमवार को केंद्रीय सांख्यकी संघठन की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, अप्रैल मैं फ़ूड बास्केट की मुद्रास्फीति 1.1 फीसदी और मार्च में 0.3 फिस्सडी थी।

रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया मौद्रिक नीति तय करते समय मुख्या रूप से उपभोक्ताओ मूल्य सूचकांक को ध्यान में रखता है। यह लगातार 9वां महीना है जब महंगई दर रिज़र्व बैंक द्वारा निर्धारित लक्ष्य अथिक्तम ४ फीसदी से कम है। इससे पहले विशेषज्ञों ने अप्रैल मेंमुद्रास्फीति 2.97 फिस्सडी रहने की उम्मीद जताई थी। जानकारी के मुताबिक 2019 – 20 में खुदरा मुद्रास्फीति में चार प्रतिशत तक बढ़ौत्तरी हो सकती है खुदरा मुद्रास्फीति 2019 -20 में 0. 60 प्रतिशत बढ़कर 4 प्रतिशत बढ़कर हो जाने का अनुमान है।

देश के सर्विस सेक्टर में आई भरी गिरावट, पिछले सात महीने के सबसे निचले स्तर पर पंहुचा विकास दर

एक रिपोर्ट में यह कहा गया है। घरेलु रेटिंग एजेंसी त्रिसिल ने सोमवार को जारी एक रिपोर्ट में कहा की उपभोक्ता मूल्य सूचकांक आदरित मुद्रास्फीति में वृद्धि का कारण प्रमुख रूप से खाघ महंगाई दर में बढ़ोतरी होगति और इसके 0 . 1 प्रतिशत से बढ़कर 3 प्रतिशत पर पहुंच जाने का अनुमान है। खुदरा मुद्रास्फीति अप्रैल में बढ़कर 2.92 प्रतिशत हुई जबकि एक महीने पहले (मार्च) में यह 2. 98 प्रतिशत थी। केंद्रीय सांख्यिकी संघठन ने सोमवार को ये आकड़े जारी किए।

ये भी पढ़ें: Vivo V15 Pro अगले हफ्ते मार्किट में होगा लॉन्च, जानिए इसके फीचर्स

ये भी पढ़ें: WhatsApp के जरिये अब होगी शॉपिंग, जानिए क्या है नया फीचर

ये भी पढ़ें: Facebook ने जारी किया नया डिजाइन, जानिए कैसा दिखेगा आपका न्यूज फीड

The post खुदरा महंगाई दर में इजाफा, अप्रैल में 2.92 फीसदी रही मुद्रास्फीति appeared first on SpashtAwaz.