X Close
X
8299323179

जानिए ओरल हेल्थ का क्या पड़ता है शरीर पर प्रभाव और क्या है इसके लक्षण


teeth

यह बात हम सभी जानते हैं कि पेट का जुड़ाव मुँह से होता है कोई भी आहार हमारे मुँह से होते हुए पेट तक पहुंचता है। यदि पेट में कोई समस्या आती है तो उसका प्रभाव मुँह में ज़रूर पड़ता है जैसे मुँह में छालों का होना लाज़मी है। इस तरह से एक को सही रखने के लिए दूसरे पर ध्यान देना अति आवश्यक होता है। इनसे जुडी कुछ और बातों को जानते हैं जो की इन समस्याओं का हल निकाल सके

पीएच स्तर में भारी मात्रा में गिरावट

मुँह का पीएच लेवल काम होने पर समझ जाइये की दातों व मसूड़ों में बैक्टेरिया लग चुके हैं जो की दातों व मसूड़ों को कमजोर बना देते हैं।
इन कारणों से मसूड़ों में सूजन जैसी समस्याएं होने लगती हैं। इसके आलावा यह बैक्टेरिया इम्यून सिस्टम को चोट पहुंचाता है। अपने मुँह के पीएच लेवल को सही रखने का प्रयास करें।

 

दांतों में सड़न

लम्बे समय से शरीर पर ध्यान ना देने पर आपकी सेहत पर काफी असर पड़ सकता है। यह बैक्टरिया दाँतों जमे लग जाने से दान सड़ने लगते हैं और साथ ही खून भी निकलता है जो की शरीर के अंदर भी जाता है। यह बैक्टेरिया खून के साथ मिलकर शरीर के अंदर जाकर भारी नुक्सान पहुँचाती हैं।

दाँतों में सेंसिटिविटी

अगर दांतों में होने वाली ज़रा सी सेंसेटिविटी को भी आप नज़रअंदाज़ करते हैं तो ये आपके दांतों को अंदर तक नुकसान पहुंचाती है, जिसके कारण कई बार दांत जड़ से ही बदलवाने पड़ते हैं या उनके लिए सुरक्षा का इंतजाम करना पड़ता है।

 

एंडोकारडिट्स

ओरल स्वास्थ्य का असर अंदरूनी भी दिखता है। इस स्थिति में दिल के अंदर की ग्रंथियां व कोशिकाओं में सूजन आ जाती है। दरअसल मुंह में पैथोजेंस नाम के बैक्टीरियल तत्व की लंबे समय तक उपस्थिति के कारण इसकी उत्पत्ति होती है।

 

The post जानिए ओरल हेल्थ का क्या पड़ता है शरीर पर प्रभाव और क्या है इसके लक्षण appeared first on SpashtAwaz.

(SPASHTAWAZ)